वार्नर स्तब्ध हैं लेकिन हमें कड़ा फैसला करना था: मूडी

image - social media
Share this news

नयी दिल्ली, दो मई (भाषा) सनराइजर्स हैदराबाद के क्रिकेट निदेशक टॉम मूडी ने कहा कि टीम की अंतिम एकादश से बाहर किए जाने से डेविड वार्नर ‘स्तब्ध और निराश’ हैं लेकिन इस कड़े फैसले का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि किसी को तो बाहर करना था और यह वह थे।

वार्नर की अगुआई में सनराइजर्स ने मौजूदा सत्र में छह में से पांच मैच गंवाए हैं और वह भी अच्छी फॉर्म में नहीं हैं जिसके बाद टीम की जिम्मेदारी केन विलियमसन को सौंपी गई है।

वार्नर के आईपीएल करियर में यह पहला मौका है जब खराब फॉर्म के कारण किसी फ्रेंचाइजी ने उन्हें टीम से बाहर किया है।

मूडी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच से पहले स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘‘हमें कड़ा फैसला करना था, किसी को टीम से बाहर होना था और दुर्भाग्य से यह वह था। वह स्तब्ध और निराश है। कोई भी निराश होगा।’’

वार्नर और मूडी के बीच रिश्ते अच्छे नहीं हैं विशेषकर मनीष पांडे को अंतिम एकादश से बाहर किए जाने के फैसले की बायें हाथ के इस सलामी बल्लेबाज द्वारा आलोचना किए जाने के बाद।

मूडी ने कहा, ‘‘उसे इस तर्क को स्वीकार करना होगा कि हम फ्रेंचाइजी के नजरिए से क्या हासिल करना चाहते हैं। मुझे नहीं लगता कि अतीत में जो हुआ वह अधिक मायने रखता है और पिछले 24 से 48 घंटे में हमने कुछ अहम बदलाव किए हैं। ’’