इस सप्ताह आएंगे दो आईपीओ, 5,800 करोड़ रुपए जुटने की उम्मीद

Share this news

नई दिल्ली, 17 जनवरी (भाषा) भारतीय रेल वित्त निगम आईआरएफसी और सिकोया कैपिटल के समर्थन वाली इंडिगो पेंट्स के आरंभिक सार्वजनिक निगम आईपीओ इस सप्ताह आएंगे। इन दोनों आईपीओ से 5,800 करोड़ रुपए से अधिक की राशि जुटने की उम्मीद है।

शेयर बाजारों में इस समय तरलता की स्थिति काफी अच्छी है और नए खुदरा निवेशकों की संख्या में भी भारी बढ़ोतरी हुई है। से में दोनों कंपनियों को इसका फायदा मिलने की उम्मीद है।

आईआरएफसी का आईपीओ 18 जनवरी को खुलकर 20 जनवरी को बंद होगा। वहीं इंडिगो पेंट्स का आईपीओ 20 जनवरी को खुलकर 22 जनवरी को बंद होगा।

आईआरएफसी का आईपीओ 178.20 करोड़ शेयरों का है। इसमें 118.80 करोड़ नए शेयर जारी किए जाएंगे जबकि सरकार 59.40 करोड़ शेयरों की बिक्री पेशकर्श ओएफएसी लाएगी। आईआरएफसी के आईपीओ के लिए मूल्य दायरा 25-26 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है। मूल्य दायरे के परी स्तर पर आईपीओ से 4,633.4 करोड़ रुपए जुटने की उम्मीद है।
कंपनी ने शुक्रवार को एंकर निवेशकों से 1,390 करोड़ रुपए जुटाए हैं। आईआरएफसी की स्थापना 1986 में हुई थी।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अप्रैल, 2017 को रेलवे की पांच कंपनियों की सूचीबद्धता की मंजूरी दी थी। इनमें से चार कंपनियों…इरकॉन इंटरनेशनल लि., राइट्स लि., रेल विकास निगम लि. और रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्प.. सूचीबद्ध हो चुकी हैं।

वहीं इंडिगो पेंट्स के आईपीओ के तहत 300 करोड़ रुपए के नए शेयर जारी किए जाएंगे। निजी इक्विटी कंपनी सिकोया कैपिटल अपने दो कोषों….एससीआई इन्वेस्टमेंट्स चार और एससीआई इन्वेस्टमेंट्स पांच के जरिए तथा प्रवर्तक हेमंत जालान 58,40,000 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकर्श ओएफएसी लाएंगे।

आईपीओ के लिए मूल्य दायरा 1,488- 1,490 रुपए प्रति शेयर रखा गया है। मूल्य दायरे के परी स्तर पर इस आईपीओ से 1,170.16 करोड़ रुपए जुटने की उम्मीद है।