पूनावाला ने कहा कुछ दिन में भारत लौटूंगा, कोविशील्ड का उत्पादन पूरे जोरों पर चल रहा है

image - social media
Share this news

नयी दिल्ली, दो मई (भाषा) भारत में कोविड- 19 टीके की बढ़ती मांग के बीच मिल रही कथित धमकियों के बाद लंदन पहुंच चुके सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया (एसआईआई) के सीईओ अदर पूनावाला ने कहा है कि वह जल्द ही भारत लौटेंगे। उन्होंने कहा कि एसआईआई में कोविशील्ड टीके का उत्पादन पूरे जोरों पर हो रहा है।

पूनावाला ने ‘दि टाइम्स’ के साथ एक साक्षात्कार में भारत में उन्हें धमकियां मिलने जैसी बात कही थी। कोविड- 19 टीके की मांग में आई भारी तेजी और उसको लेकर उन पर बढ़ते अप्रत्याशित दबाव और वैक्सीन की आपूर्ति को लेकर भारत के कुछ सबसे प्रभावशाली लागों की उग्र फोलन काल मिलने के बाद वह परिवार के साथ लंदन चले गये।

पूनावाला ने देर रात किये गये एक ट्वीट में शनिवार को कहा कि कोविशील्ड का उत्पादन पूरे जोरों पर हो रहा है। आक्सफोर्ड और एस्ट्रा जेनेका के कोविड- 19 टीके का उत्पादन सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा किया जा रहा है। अपने ट्वीट में पूनावाला ने कहा, ‘‘यह बताते हुये प्रसन्नता हो रही है कि कोविशील्ड का उत्पादन पुणे में पूरे जोरशोर के साथ हो रहा है। मैं कुछ ही दिन में भारत लौटकर कामकाज की समीक्षा करूंगा।’’

उन्होंने हालांकि भारत लौटने की समयसीमा के बारे में नहीं बताया।

पूनावाला ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘ब्रिटेन में अपने सभी भागीदारों और संबंधित पक्षों के साथ बहुत अच्छी बैठक हुई। बहरहाल, यह बताते हुये मुझे प्रसन्नता है कि पुणे में कोविशील्ड का उत्पादन पूरे जोरों से चल रहा है। कुछ ही दिन में भारत लौटने पर मैं उत्पादन कार्य की समीक्षा करूंगा।’’

भारत के राज्य इस समय कोरोना संक्रमण के गंभीर संकट के बीच टीका पाने के लिये हाथ पैर मार रहे हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के दैनिक आंकड़े चार लाख तक पहुंच चुके हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान संक्रमण के 3,92,488 नये मामले सामने आये हैं, वहीं इस दौरान 3,689 लोगों की मौत हो गई। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार अब तक कुल 1.95 करोड़ लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं जबकि 2,15,542 की मौत हो चुकी है।

दि टाइम्स ने शनिवार को प्रकाशित एक साक्षात्कार में पूनावाला को यह कहते हुये बताया, ‘‘मैं यहां लंबे समय के लिये रुकूंगा, क्योंकि में वहां फिर उस स्थिति में नहीं जाना चाहता हूं।’’

साक्षात्कार में जब उनसे ‘कुंभ मेला’ और विधानसभा चुनावों का भारत में कोरोना की दूसरी लहर पर असर के बारे में पूछा गया तो पूनावाला ने कहा कि ऐसे संवेदनशील मुद्दों का यदि उन्होंने जवाब दिया तो उनका ‘‘सिर धड़ से अलग कर दिया जायेगा।’’

पूनावाला की टिप्पणियों को लेकर तरह तरह की प्रतिक्रियायें दी गई हैं। कुछ ने उनके कदम को लेकर निराशा जताई है जबकि कुछ ने इस बात के लिये उनकी आलोचना की है कि उन्होंने साक्षात्कार में एसआईआई को भारत से बाहर ले जाने की बात कही।

भारत में टीकाकरण अभियान का तीसरा दौर शुरू हो चुका है जिसमें 18 से 44 आयुवर्ग के लोगो को टीका लगाया जाना है। लेकिन टीके की कमी के कारण कुछ राज्यों में यह अभियान शुरू नहीं हो सका। उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ, महाराष्ट्र और जम्मू कश्मीर सहित कुछ अन्य राज्यों और संघ शासति प्रदेशों ने टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत की है लेकिन कर्नाटक और आडीशा में इसकी सांकेतिक शुरुआत ही हो पाई।

एसआईआई ने पिछले सप्ताह ही राज्यों के लिये अपने टीके की कीमत 400 रुपये से घटाकर 300 रुपये कर दी। कंपनी ने केन्द्र सरकार को कोविशील्ड 150 रुपये में उपलब्ध करा रही थी।

देश में कोवीशील्ड के अलावा हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक की कोवैक्सिन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।