चहल ने दिखा दिया कि किसी भी विकेट पर छाप छोड़ सकता है : कोहली

फाइल फोटो
Share this news

दुबई, 22 सितम्बर (भाषा) रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग ‘आईपीएल’ के मैच में जीत के बाद युजवेंद्र चहल की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि कलाई के इस स्पिनर ने दिखा दिया कि वह किसी भी विकेट पर प्रभावित कर सकता है।

सनराइजर्स एक समय दो विकेट पर 121 रन बनाकर अच्छी स्थिति में दिख रहा था लेकिन चहल ने यहां पर दो विकेट लिए और इसके बाद हैदराबाद की टीम 164 रन के लक्ष्य के सामने ताश के पत्तों की तरह बिखरकर 153 रन पर आउट हो गई। चहल ने 18 रन देकर तीन विकेट चटकाए जिसमें जॉनी बेयरस्टॉ (61) का विकेट शामिल था।

कोहली ने मैच के बाद, ईमानदारी से कहूं तो यह शानदार मैच था। पिछले साल परिणाम हमारे अनुकूल नहीं रहे थे। हमने संयम बनाए रखा और युर्जी चहली ने मैच का पासा पूरी तरह से हमारे पक्ष में कर दिया। उसने दिखाया कि अगर आपके पास कौशल है तो आप विकेट ले सकते हो। उसने मैच का पासा पलटा।

कोहली ने आईपीएल में अपना पहला मैच खेल रहे देवदत्त पडिक्कल की भी प्रशंसा की जिन्होंने 56 रन बनाए। उन्होंने कहा, हमने वास्तव में अच्छी शुरुआत की। देवदत्त ने पदार्पण पर बहुत अच्छी पारी खेली। आरोनी फिंच ने भी अच्छा खेल दिखाया। लेकिन जब आप दो गेंदों पर दो विकेट गंवा देते हो तो तब पारी संवारनी पड़ती है।

कोहली ने कहा, वाशिंगटन सुंदर (एक ओवर) ने आज अधिक गेंदबाजी नहीं की लेकिन कामचला गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया जो कि अच्छा संकेत है।

सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर को अपने जल्दी आउट होने का दुख था। जॉनी बेयरस्टॉ का शॉट गेंदबाज उमेश यादव के हाथ से लगाकर नान स्ट्राइकर छोर पर लग गया था और तब वार्नर क्रीज से बाहर थे।

वार्नर ने कहा, मुझे याद नहीं कि मैं इससे पहले कब इस तरह से आउट हुआ था। इस मैच में कुछ सी चीजें हुई जो हमने पहले नहीं देखी। चहल का आखिरी ओवर टर्निंग प्वाइंट रहा। हमें इस मैच को भुलाकर अगले मैच के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी।

मिशेल मार्श का गेंदबाजी करते समय टखना मुडऩा सनराइजर्स को आखिर में भारी पड़ा। वह इसके बावजूद आखिरी क्षणों में बल्लेबाजी के लिए आए जिसके लिए वार्नर ने उनकी प्रशंसा भी की।

वार्नर ने कहा, मिशेल ने साहस दिखाया और क्रीज पर उतरा। वह बहुत अच्छा महसूस नहीं कर रहा था। वह अपने पांव पर जोर नहीं दे पा रहा था। उम्मीद है कि उसकी चोट गंभीर नहीं होगी। उसे काफी दर्द हो रहा था इसलिए कुछ कहा नहीं जा सकता।

मैन आफ द मैच चहल ने कहा, जब मैंने पहला ओवर किया तो मुझे लगा कि विकेट टू विकेट गेंदबाजी करनी होगी। एक समय वे अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे। मैंने उन पर दबाव बनाने की कोशिश की और आखिर में इसमें सफल रहा।