मप्र के बड़े हिस्से में शीतलहर, सबसे कम तापमान खजुराहो में

प्रतीकात्मक तस्वीर
Share this news

भोपाल, 28 जनवरी (भाषा) मध्य प्रदेश का बड़ा भाग शीतलहर की चपेट में है। प्रदेश में सबसे कम तापमान लोकप्रिय पर्यटन स्थल खजुराहो में तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

भारत मौसम केन्द्र् आईएमडी, भोपाल ने बृहस्पतिवार को कहा कि छतरपुर और दतिया जिलों में शुक्रवार सुबह तक अलग-अलग स्थानों पर कड़ाके की ठंड पडऩे की संभावना है।

वहीं, प्रदेश के 24 स्थानों पर पिछले 24 घंटों में न्यूनतम तापमान तीन से दस डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया।

विभाग ने अनुमान जताया है कि शुक्रवार सुबह तक रायसेन, उमरिया, टीकमगढ़ और सागर जिलों के अलावा रीवा, ग्वालियर और चंबल संभाग के कुछ हिस्सों में भी शीत लहर चलने की संभावना है। वही इंदौर, जबलपुर, उज्जैन, छतरपुर और टीकमगढ़ सहित दस जिलों में बृहस्पतिवार को सर्द दिन होने की संभावना है।

विभाग ने कहा कि छतरपुर, बालाघाट, रीवा, सतना और ग्वालियर के अलग-अलग स्थानों पर शुक्रवार सुबह तक हल्का या मध्यम कोहरा छा सकता है।

वरिष्ठ मौसम विज्ञनी जी डी मिश्रा ने बताया कि धार और खजुराहो में कड़ाके की ठंड पड़ रही है, जबकि गुना, रतलाम, रायसेन, सागर, सतना, सीधी और टीकमगढ़ जिलों में भी पिछले 24 घंटे में अच्छी ठंड रही।

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश स्थित आईएमडी के 24 स्थानों पर न्यूनतम तापमान तीन से दस डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। सबसे कम न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस खजुराहो में दर्ज किया गया।

एक अन्य वरिष्ठ मौसम विज्ञानी पी के साहा ने बताया कि शनिवार को प्रदेश में लोगों को कड़ाके की ठंड से राहत मिलने की उम्मीद है।

उन्होंने कहा कि बुधवार सुबह भोपाल का न्यूनतम तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस था, जो बृहस्पतिवार की सुबह बढ़कर 8.2 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। उन्होंने कहा कि यह इस बात का संकेत है कि ठंड धीरे-धीरे कम होने लगी है।