मप्र में ईओडब्ल्यू के छापे में सरकारी अधिकारी की ढाई करोड़ रुपये की संपत्तियों का खुलासा

Share this news

इंदौर, (भाषा) मध्य प्रदेश पुलिस के आर्थिक अपराध अनुसंधान प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) ने एक सरकारी अधिकारी के ठिकानों पर शुक्रवार को छापेमारी की और उसकी करीब ढाई करोड़ रुपये मूल्य की चल-अचल संपत्तियों का खुलासा किया।

ईओडब्ल्यू के पुलिस अधीक्षक धनंजय शाह ने बताया कि राज्य सरकार के उपक्रम ‘मध्य प्रदेश एग्रो इंडस्ट्रीज डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन’ के धार में पदस्थ जिला प्रबंधक रमेशचंद्र रूपारिया (55) के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायत पर उनके घर और अन्य ठिकानों पर छापे मारे गए जो धार, इंदौर, भोपाल और शाजापुर जिले के मोहन बड़ोदिया कस्बे में स्थित हैं।

शाह ने बताया कि छापों में रूपारिया के तीन मकानों और एक फ्लैट के साथ ही तीन मंजिला एक अस्पताल का पता चला है।

उन्होंने कहा, ‘‘छापों में रूपारिया की करीब ढाई करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्तियां मिली हैं। इन संपत्तियों का मूल्य रूपारिया की वैध आय से ज्यादा है।’’

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सरकारी अधिकारी के बैंक खातों, लॉकरों और अलग-अलग जगह निवेश को लेकर ईओडब्ल्यू की विस्तृत जांच जारी है तथा उसकी संपत्तियों का मूल्य बढ़ सकता है।