वायरस से निपटने में सरकारों की मदद के लिए ‘यूजर लोकेशन डेटा’ प्रकाशित करेगा गूगल

सांकेतिक तस्वीर
Share this news

पेरिस, 3 अप्रैल (भाषा) गूगल शुक्रवार से पूरी दुनिया के अपने उपयोगकर्ताओं के लोकेशन डेटा साझ करना शुरू करेगा ताकि सरकारें कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने के लिए उनकी तरफ से उठाए गए सामाजिक दूर संबंधी उपायों के प्रभाव को सही-सही आंक सके।  प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी के ब्लॉग पर एक पोस्ट के मुताबिक 131 देशों में उपयोगर्ताओं की आवाजाही पर रिपोर्ट विशेष वेबसाइट पर उपलब्ध कराई जाएगी और भूगोल की मदद से समय दर समय आवाजाही की स्थिति अंकित होती रहेगी। 

गूगल मैप्स के प्रमुख जेन फिट्जपैट्रिक और कंपनी की मुख्य स्वास्थ्य अधिकरी केरेन डीसाल्वो की पोस्ट में कहा गया कि ये रूझन पार्क, दुकानों, घरों और कार्यस्थल जैसे स्थानों तक हुए दौरों में प्रतिशत प्वाइंट के हिसाब से बढ़ोतरी या कमी को प्रदर्शित करेगा न कि एक व्यक्ति कितनी बार इन स्थानों पर गया यह बताएगा।   

फिट्जपैट्रिक और डीसाल्वो ने कहा, हमें उम्मीद है कि ये रिपोर्ट कोविड-19 वैश्विक महामारी के मद्देनजर प्रबंधों के संबंध में फैसला लेने में मदद करेंगी। पोस्ट में कहा गया, यह सूचना अधिकारियों को आवश्यक दौरों में बदलावों को समझ्ने में मदद करेगी और कामकाजी घंटों पर अनुशंसाओं को विकसित करने में या डिलिवरी सेवाओं पर सुझव आदि देने में मददगार साबित हो सकती हैं।